RSS कार्यकर्ता गांवों में अधिक से अधिक प्रवास कर लोगों को संघ के कार्यों से अवगत कराएं: मोहन भागवत

देहरादून। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सर संघचालक मोहन भागवत ने देहरादून प्रवास के अंतिम दिन शुक्रवार को संघ की प्रांतीय कार्यकारिणी की बैठक में राज्य में संघ के कामकाज की समीक्षा की। उन्होंने शाखाओं के विस्तार पर जोर दिया और कार्यकर्ताओं से कहा कि वे गांवों में अधिक से अधिक प्रवास करें।

उन्होंने कार्यों की प्रगति पर संतोष जताया और विषम भूगोल की चुनौतियों को रेखांकित किया। संघ के आयाम श्सामाजिक सद्भावश् की बैठकों को खंड स्तर तक ले जाने को कहा। शाम को सरसंघचालक डॉ. भागवत ट्रेन से गाजियाबाद के लिए रवाना हो गए। वह चार फरवरी को दून प्रवास पर आए थे। संघ प्रमुख डॉ.भागवत ने देहरादून प्रवास के अंतिम दिन तिलक रोड स्थित संघ कार्यालय में प्रांतीय कार्यकारिणी की बैठक में संघ की शाखाओं के साथ ही विविध कार्यक्रमों की समीक्षा की। संघ प्रमुख ने भौगोलिक जटिलताओं के बावजूद उत्तराखंड में 907 स्थानों पर संघ की 1373 दैनिक शाखाएं लगने पर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि विषम भूगोल समेत अन्य चुनौतियां हैं, लेकिन कार्यकर्ताओं को शाखाओं के विस्तार पर ध्यान केंद्रित करना होगा। संघ प्रमुख ने कहा कि शाखाओं में स्वयंसेवकों का ठीक से विकास हो, इसके लिए प्रशिक्षण कार्य उत्तम गुणवत्ता का होना चाहिए। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता गांवों में प्रवास कर लोगों को संघ के कार्यों से अवगत कराएं। साथ ही वहां की समस्याओं पर भी चर्चा करें, ताकि इनके निदान की दिशा में कदम उठाए जा सकें। संघ प्रमुख ने सामाजिक सद्भाव आयाम पर अधिक जोर दिया। बैठक में संघ के क्षेत्र प्रचारक आलोक, प्रांत प्रचारक युद्धवीर, प्रांत संघ चालक गजेंद्र, क्षेत्र कार्यवाह शशिकांत दीक्षित समेत प्रांतीय पदाधिकारी, प्रचारक और कार्यकारिणी सदस्य मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*