सफाई मजदूरों की समस्याओं का सरकार जल्द निकालें हलः संयुक्त मोर्चा

हरिद्वार। उत्तराखंड सफाई संयुक्त मोर्चा के बैनर तले सफाई कर्मचारियों ने कहा कि सफाई मजदूरों की समस्याओं को सरकार जल्द से जल्द हल करें, वरना उत्तराखंड सफाई कर्मचारी संयुक्त मोर्चा आंदोलन करने को बाध्य होगा।जिसकी सारी जिम्मेदारी सरकार की होंगी।
हरिद्वार प्रेस क्लब में पत्रकारों से वार्ता करते हुए उत्तराखंड सफाई कर्मचारी संयुक्त मोर्चा के सह-संयोजक सुरेंद्र तेश्वर ने कहा कि मोर्चे के गठन सफाई कर्मचारियों की समस्याओं को दूर करने के लिए किया गया है।पूरे प्रदेश में युद्ध स्तर से सम्पर्क कर सफाई मजदूरों की समस्याओं को एकत्र कर सरकार व शासन को एक ज्ञापन आगामी 6 फरवरी को दिया जाएगा। यदि सरकार 28 फरवरी तक  कर्मचारियों की समस्याओं का समाधान नही करती है ,तो राज्य व्यापी आंदोलन किया जाएगा।उन्होंने कहा कि कुछ तथाकथित लोग संयुक्त मोर्चे की एकता से भयभीत होकर समाज को गुमराह कर तोड़ने का कार्य कर रहे है।
वही मोर्चे के सह-संयोजक संतोष गौरव ने कहा कि राज्य का सफाई मजदूर स्वस्थ्यग्रस्त है,तथा परेशान व दुखी है।सरकार का ध्यान सफाई मजदूरों पर कत्तई नही है।संतोष गौरव ने कहा कि मोर्चे के बैनर तले सामाजिक संगठनों और अन्य संगठनों को शामिल कर विशाल रुओ दिया जाएगा।उन्होंने कहा कि सफाई मजदूरों की समस्याओं के साथ-साथ बाल्मीकि समाज के उत्थान के लिए संधर्ष होगा,बाल्मीकि साज का इतिहास दबाया गया है।वार्ता के दौरान संयुक्त रूप से बताया गया कि यदि 6 फरवरी को सफाई कर्मचारियों की समस्याओं के परिवेश में संयुक्त मोर्चे के बैनर तले एक ज्ञापन शासन व प्रशासन को दिया जाएगा।यदि समय रहते समाधान ना हुआ तो फरवरी माह के अंत मे सरकार के विरुद्ध आंदोलन किया जाएगा। इस अवसर पर मुख्य रूप से सुनील राजौरा,राजेन्द्र श्रमिक,अशोक तेश्वर,नरेश चनयाना,आनंद कांगड़ा,जितेन्द्र तेश्वर,जुगनू कांगड़ा,सलेख चंद,सुरेश तेश्वर व घनश्याम पेवल आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*