वोटर हेल्प लाईन 1950 लांच की गई, मतदाता संबंधी सभी जानकारी मिलेगी टोल फ्री नम्बर पर

-मुख्य निर्वाचन अधिकारी सौजन्या ने टाउन हाॅल, नगर निगम देहरादून में आयोजित कार्यक्रम में किया शुभारम्भ
देहरादून। वोटर हेल्प लाईन 1950 लांच कर दी गई है। इस टोल फ्री नम्बर पर कोई भी व्यक्ति यह जानकारी ले सकता है कि उसका मतदाता सूची में नाम है या नहीं। अगर नाम नहीं है तो वोटर लिस्ट में नाम जुड़वाया जा सकता है। इसके अलावा एंड्रायड फोन है तो प्ले स्टोर से भारत निर्वाचन आयोग के वोटर हेल्पलाईन एप को डाउनलोड कर वहां भी सारी जानकारी प्राप्त की जा सकती है।
टाउन हाॅल, नगर निगम देहरादून में आयोजित कार्यक्रम में राज्य की मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्रीमती सौजन्या ने वोटर हेल्प लाईन 1950 का शुभारम्भ करते हुए विशेष तौर पर युवा मतदाताओं से मतदाता सूची में नाम जुड़वाने व चुनावों में मतदान करने की अपील की। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग का ध्येय है कि लोकतंत्र में सभी की भागीदारी हो और कोई भी मतदाता ना छूटे, इसके लिए हर सम्भव प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कार्यक्रम में बड़ी संख्या में मौजूद छात्र-छात्राओं को स्वयं मतदान करने व दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करने की शपथ दिलाई। अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी षणमुगम ने वोटर हेल्प लाईन के बारे में विस्तार से जानकारी दी। जिलाधिकारी देहरादून एस.ए. मुरूगेशन ने छात्र-छात्राओं से संवाद स्थापित करते हुए उन्हें मतदान में भागादारी करने के लिए पे्ररित किया। वोटर हेल्प लाईन नम्बर 1950 पर काॅल कर वोटर आई कार्ड बनवाने, बीएलओ व पोलिंग बूथ से संबंधित जानकारी तथा मतदाता सूची में अपना नाम और विवरण का सत्यापन किया जा सकता है। 1950 पर काॅल करने पर किसी भी प्रकार का शुल्क लागू नहीं होगा। वोटर हेल्प लाईन का लाईव डेमो किया गया जिसमें छात्रा लक्ष्मी कनोजिया ने 1950 डायल कर मतदाता सूची में अपने नाम की स्थिति की जानकारी ली। उन्हें भाग संख्या, विधानसभा क्षेत्र सहित बताया गया कि उनका नाम वोटर लिस्ट में है। ‘मजबूत लोकतंत्र-सबकी भागादारी’ विषय पर आॅन स्पाॅट भाषण प्रतियोगिता में आभा विमोली प्रथम, स्वर्णिमा सजवाण द्वितीय व एनआईवीएच के छात्र सागर सिंह को तृतीय स्थान से पुरस्कृत किया गया जबकि मंजू, अक्शा , विनी व धनूप कुमार को सान्त्वना पुरस्कार प्रदान किया गया। इस अवसर पर नुक्कड़ नाटक की प्रभावशाली प्रस्तुति की गई। छात्र-छात्राओं ने उत्साह के साथ ईवीएम व वीवीपीएटी की कार्यप्रणाली को जाना और मतदान करने के शपथपत्र पर हस्ताक्षर किए।
————————————————————

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*