राज्यपाल ने ग्रीन रैबिट मोबाइल एप्लिकेशन लॉन्च किया

-उत्तराखंड का पहला इको-फ्रेंडली ट्रांसपोर्टेशन मोबाइल एप्लीकेशन
देहरादून। उत्तराखंड के राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने आज गवर्नर हाउस में उत्तराखंड का पहला इको-फ्रेंडली परिवहन मोबाइल एप्लीकेशन ग्रीन रैबिट लॉन्च किया। जिसमें 100 से अधिक लोग उपस्थित थे। यह मोबाइल एप्लिकेशन मुफ्त डाउनलोड के लिए गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध है। यह यूजरफ्रेंडली मोबाइल एप्प गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते है। यह मोबाइल एप्प जल्द ही आई ओ एस प्लेटफार्म पर बहुत जल्दी उपलब्ध होगा। 
इस मोबाइल एप्लिकेशन का उद्देश्य किफायती मूल्य पर शहर के भीतर जनता के लिए आवागमन आसान बनाना है। इस एप्प के जरिये कोई भी व्यक्ति ई-रिक्शा ई-बाइक टैक्सी टैक्सी या ऑटो रिक्शा को बुक करवा सकता है तथा अपने गंतव्य स्थान पर पहुंच सकता है। इस एप्प में महिला यात्रियों के लिए एक विशेष सुविधा है “पिंक रैबिट” जहां महिला यात्री महिला ड्राइवरों के साथ सवारी बुक करवा सकती हैं। इस सुविधा का उद्देश्य महिला सशक्तीकरण को बढ़ावा देना है ताकि उन्हें अधिक रोजगार के अवसर प्रदान किए जा सकें। ग्रीन रैबिट एप्प के लॉच के अवसर पर राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने कहा ग्रीन रैबिट की शुरूआत के साथ उत्तराखंड के लोग अब प्रदूषण को कम करने के लिए और किफायती मूल्य पर कहीं भी यात्रा कर सकते हैं। मुझे वास्तव में उम्मीद है कि इस मोबाइल एप्लिकेशन को जनता द्वारा बहुत पसंद किया जायेगा। इस अवसर पर ग्रीन रैबिट के अध्यक्ष डॉ. आलोक ड्रोलिया ने कहा मुझे बहुत खुशी है कि ग्रीन रैबिट का आधिकारिक लॉन्च हमारे माननीय राज्यपाल द्वारा किया गया है। इस लॉन्च के साथ हमसाफ सुथरे और हरेभरे वाले वातावरण की ओर एक कदम करीब हैं। ग्रीन रैबिट के सह-संस्थापक राजीव चिरानिया ने कहा कि   हम आने वाले समय में उत्तराखंड के सभी प्रमुख शहरों और शेष भारत में इस एप्प को शुरू करने की योजना बनाई है। “अगर हम चाहते हैं कि हमारी आने वाली पीढ़ियां साफ हवा में सांस लें और जीवित रहें तो हमें तुरंत स्वच्छ ऊर्जा पर ध्यान देने की जरूरत है अन्यथा हम उन्हें किसी अन्य ग्रह में अपने लिए जगह बनाते हुए पाएंगे”।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*