मंडलायुक्त डाॅ. बीवीआरसी पुरूषोत्तम ने की परम्परागत कृषि विकास योजना और हार्टीकल्चर टैक्नोलाॅजी मिशन की समीक्षा 

देहरादून। आयुक्त गढ़वाल डाॅ. बीवीआरसी पुरूषोत्तम द्वारा एनआईसी सभागार देहरादून से गढवाल मण्डल के जिलाधिकारियों व मुख्य विकास अधिकारियों से कृषि और किसानों के कल्याण के लिए केन्द्र व राज्य सरकार की परम्परागत कृषि विकास योजना और हार्टीकल्चर टैक्नोलाॅजी मिशन योजना के बेहतर क्रियान्वयन  हेतु वीडियो कान्फे्रसिंग के माध्यम से समीक्षा की गयीं। 
समीक्षा में मण्डलाआयुक्त गढवाल ने मण्डल के अन्तर्गत आने वाले सभी जनपदों के जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी, मुख्य कृषि अधिकारी और मुख्य उद्यान अधिकारियों को दोनों योजनाओं की बेहतर प्रगति आपसी तालमेल से कार्य करने और समीक्षा बैठक में सामने आये विभिन्न बिन्दुओं पर कार्य करते हुए योजनाओं को सफल बनाने के निर्देश दिये। आयुक्त ने सभी जनपदों से परम्परागत कृषि योजना और हार्टीकल्चर टेक्नोलाॅजी मिशन योजना के सम्बन्ध में कलस्टर निर्माण, ग्रोथ सेन्टर्स, योजनाओं का कनवर्जेन्स विभिन्न पक्षों के मध्य समन्वय हेतु कृषि एप्प, वैल्यु एडीशन, मार्केटिंग, कलेक्शन प्रोसेज, रिसोर्स मैपिंग, सीड प्रबन्धन, आर्गेनिक उत्पादन के स्टेटस, ब्राण्डिंग, बेसलैण्ड सर्वे इत्यादि का विवरण प्राप्त करते हुए उनको अमल में लाने के निर्देश दिये। उन्होंने सभी अधिकारियों से दोनो योजनाओं की प्रगति बढाने के सुझाव भी प्राप्त किये और कहा कि आज प्राप्त हुए विभिन्न सुझावों और मेरे द्वारा दिये गये निर्देशों के क्रम में किसान, फिल्ड कार्मिक और खरीददार इत्यादि सभी पक्षों के मध्य बेहतर तालमेल के प्रयास करने और योजना को बेहतर क्रियान्वयन  हेतु समीक्षा बैठक आयोजित करने और निर्धारित फाॅर्मेट में एक सप्ताह के भीतर दोनों योजनाओं के सम्बन्ध में विवरण प्रेषित करने के भी निर्देश दिये। आयुक्त गढवाल ने योजनाओं की प्रगति के साथ ही फसल की शुद्धता, जैविक खेती बढाने, कृषि और उद्यान विभाग की आजीविका मिशन में डुप्लीकेसी रोकने ओर नये ब्राण्ड नेम देने की जगह पुरानी ब्राण्ड का ही प्रचार-प्रसार करने के भी निर्देश दिये। इस अवसर पर एनआईसी सभागार में जिलाधिकारी एस ए मुरूगेशन, मुख्य विकास अधिकारी जी.एस रावत, मुख्य कृषि अधिकारी विजय देवराड़ी, मुख्य उद्यान अधिकारी एस.के श्रीवास्तव, बी.के भट्ट सहित सम्बन्धित विभागीय कार्मिक उपस्थित थे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*