नशे के सौदागरों पर शिकंजा कसे सरकारः मोर्चा

देहरादून। जनसंघर्ष मोर्चा अध्यक्ष एवं जी0एम0वी0एन0 के पूर्व उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने कहा कि प्रदेश में अत्याधुनिक किस्म के नशे स्मैक, चरस, हेरोइन, कैप्सूल, ओरलध्इंजेक्टिंग, एडेसिव आदि ने युवाओं का भविष्य चैपट कर दिया है। नेगी ने कहा कि आजकल अधिकांश युवा पहले तो इस नशे के कारोबार करने वालों के सम्पर्क में आकर अपना छोटा-मोटा नशे का कारोबार शुरू करते हैं तथा कुछ ही दिन बाद इस चक्रव्यूह में फँसकर नशे को अपनाने लगते हैं, जिस कारण आज प्रदेश में नशेड़ियों की संख्या में अप्रत्याशित वृद्वि हो रही है तथा परिवार के परिवार उजड़ रहे हैं। मोर्चा कार्यालय में पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने कहा कि औद्योगिक इकाइयों के आसपास के इलाके इस नशे के कारोबार का मुख्य केन्द्र बिन्दु है। इन इकाइयों से लगे इलाकों के आस-पास के गाँव इस आग में झुलस चुके हैं।

नशे के कारोबार ने प्रदेश में अपना साम्राज्य स्थापित कर लिया है तथा बहुत बड़ी मात्रा में अन्य प्रदेशों से इसकी आपूर्ति हो रही है। इसके साथ-साथ दुकानों में भी नशे का सामान धड़ल्ले से बिक रहा है। नशे के दुष्परिणामों के चलते माता-पिता अपने बच्चों को खो रहे हैं तथा रही-सही कसर नशे में बाईक चलकार युवा अपनी जीवन लीला समाप्त कर रहे हैं तथा राहगीरों की मौत का कारण भी बन रहे हैं। अधिकांश युवा पैसे के अभाव में चोरी-चकारी, लूटपाट आदि भी करने लगे हैं। मोर्चा ने आशंका जतायी कि अगर नशे के कारोबार पर पूर्ण अंकुश नहीं लगाया गया तो वो दिन दूर नहीं जब सेना/पुलिस व अन्य ससस्त्रबलों के लिए युवा ढूँढे नहीं मिलेगें। मोर्चा नशे के खिलाफ आन्दोलन करेगा। पत्रकार वार्ता में मोर्चा नेता ओ0पी0 राणा, श्रवण ओझा, सुशील भारद्वाज, नरेन्द्र तोमर आदि थे।

————————————————————-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*