दो लाख की लूट में धरा गया कंपनी का कर्मचारी -साथी के साथ मिलकर बनाई थी वारदात की योजना

देहरादून। थाना विकासनगर के आदूवाला में हुई दो लाख की लूट के मामले का खुलासा पुलिस ने कर दिया है। घटना कंपनी के कर्मचारी ने ही प्लान की थी। नवीन शर्मा निवासी बनखण्डी योग ऋषिकेश, हाल क्षेत्रीय प्रबन्धक इन्फ्रो माईक्रो क्रेडिट को0 आपरेटिव सोसायटी ने चैकी हरबर्टपुर पर एक लिखित तहरीर दी कि उनकी कम्पनी का एजेन्ट साबिर अली निवासी ग्राम कुतुबमाजरा, थाना बडगांव, जनपद सहारनपुर कम्पनी के कार्यालय कैनाल रोड हरबर्टपुर से कम्पनी का 2 लाख रुपये लेकर ग्रामीण सोसायटी को वितरण करने को निकला था,  एजेन्ट साबिर अली को धनराशि ग्राम आदूवाला तथा ग्राम धर्मावाला मे वितरण करनी थी ।
कुछ समय पश्चात  एजेन्ट साबिर द्वारा कम्पनी कार्यालय मे आकर बताया कि ग्राम आदूवाला के पास 2 बाईक सवार व्यक्तियों  ने उसकी आंखो मे मिर्ची पाउडर डालकर उसका बैग छीन लिया,  जिसमे कम्पनी के 2 लाख रुपये रखे  थे। इस सूचना पर थाना विकासनगर पर मुकदमा दर्ज करते हुए बदमाशों की तलाश शुरू की। इसी बीच पुलिस टीम को मुखबीर के माध्यम से जानकारी प्राप्त हुयी कि घटना  को अन्जाम देने वाले आरोपी कुतुबमाजरा,  जनपद सहारनपुर के है, जिस पर पुलिस टीम ने प्राप्त जानकारी के आधार पर घटना में संलिप्त 2 अभियुक्तो में से एक आमिर  को सहारनपुर स्थित  उनके घर से गिरफ्तार किया गया तथा दूसरे नाबालिग को पुलिस निगरानी में लेते हुए दोनो से अलग-अलग 50-50 हजार रुपये एवं घटना मे लूटा गया बैग एवं घटना मे प्रयोग मोटरसाईकिल बरामद की गयी । आरोपियों ने  पूछताछ में कंपनी एजेन्ट साबिर का भी घटना में संलिप्त होना बताया गया, जिस पर पुलिस टीम ने आरोपी साबिर को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से घटना में लूटी गयी रकम एक लाख रुपये बरामद की गयी। आरोपियों को न्यायालय के समक्ष तथा नाबालिग को किशोर बोर्ड के समक्ष पेश किया ।
—————————————————
साबिर ने ही बनायी थी लूट की फर्जी कहानी
देहरादून। पूछताछ में अभियुक्त आमिर ने बताया गया कि कम्पनी का एजेन्ट साबिर अली उसके गांव का रहने वाला है, दो माह पूर्व हमें बताया था कि उसकी कम्पनी में ग्राहको से पैसों का लेन देन उसके द्वारा किया जाता है।  इस रविवार को साबिर अली छुट्टी पर गांव आया था, उसके द्वारा हम दोनो को 50-50 हजार रुपये मिलने की बात कहकर हमे घटना को अन्जाम देने के लिए तैयार कर लिया।  साबिर अली द्वारा बनाई गयी योजना के अनुसार हम दोनो अपने गांव से निकलकर हरबर्टपुर पहुंच गये थे, साबिर के बताये अनुसार हमने उसे सोशल मीडिया पर काँल करके सम्पर्क किया तथा उसके बताये अनुसार उसके पीछे-2 चलते रहे,  गांव के पास एक जगह मे उसने हमे बैग तथा 1 लाख रुपये दे  दिये और हमे जाने के लिए कहा। 1 लाख रुपये उसने पहले से ही अपने पास रख लिये थे, हम बैग व पैसे लेकर उसी रास्ते से वापस अपने गांव चले गये थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*