देवप्रयाग की बीडीसी बैठक में छाया रहा पेयजल आपूर्ति का मुद्दा

टिहरी। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के बाद देवप्रयाग ब्लॉक की पहली बीडीसी बैठक नवनिर्वाचित प्रमुख सूरज पाठक की अध्यक्षता में आयोजित हुई। नए पंचायती एक्ट के बाद पढ़े-लिखे युवाओ की मौजूदगी से सदन में खासा बदलाव दिखा। बैठक में सदस्यों ने क्षेत्र के गांवों में जलापूर्ति न होने पर जल संस्थान व जल निगम के खिलाफ नाराजगी जताई।
रविवार को देवप्रयाग ब्लॉक मुख्यालय हिंडोलाखाल में पहली बीडीसी बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में नए बीडीसी सदस्यों ने सदन में पेयजल के मुद्दे को लेकर जलनिगम व जलसंस्थान अधिकारियों की जमकर खिंचाई की। प्रधान कोलाकांडी सोहनसिंह भंडारी ने जलापूर्ति से वंचित लोगों को सबसे पहले पानी पहुंचाने की मांग की। तुणगी प्रधान अरविंद जियाल ने हर घर नल योजना में समस्त ब्लॉक का सर्वे किए जाने की मांग रखी। वहीं सदस्यों ने झंड़ीधार पेयजल योजना के खुले फिल्टर से दूषित पेयजल आपूर्ति पर अधिकारियों के खिलाफ रोष जताया। प्रधान मुकेश ने ऑल वेदर रोड निर्माण से ध्वस्त डोबरी व अन्य गांवों की पेयजल लाइन बनाने की मांग की। प्रधान पुष्पा रावत ने दूरस्थ कुर्न क्षेत्र में सुचारू जलापूर्ति की मांग की। क्षेपंस सुमन भट्ट ने भल्लेगांव चन्द्रबदनी मार्ग पर दुर्घटना का सबब बन रहे खनन व क्रेशर वाहनों की आवाजाही रोकने की मांग की। प्रधान जयंती डंगवाल व अन्य सदस्यों ने बागवान, डोब, चामी, चमराडादेवी आदि मार्गों पर जोखिम का कारण बनी झाड़ियों को हटाने, प्रधान तनुजा बडोनी ने क्वीली चंद्रवदनी मार्ग से जामणा गांव को जोड़ने की मांग सहित गौरा देवी कन्या धन योजना जैसी योजनाओ की जानकारी ग्रामीणों तक नहीं पहुंचने पर रोष जताया। सदस्यों ने क्षेत्र में झूलती बिजली तारों से जानजोखिम बढ़ने का मुद्दा भी सदन में उठाया। पिताम्बरदास ने दो वर्ष पूर्व खरसाडी में बने टैंको के फटने, ताजबर सिंह व नरेंद्र रतूड़ी ने वर्षो पहले बने टैंको पर जलापूर्ति नहीं होने के मामले उठाए। इस मौके पर पूर्व प्रमुख जयपाल पंवार, मगनसिंह बिष्ट, ज्येष्ठ उपप्रमुख विजयपाल पंवार, कनिष्ठ प्रमुख दीपक सुयाल, बीडीओ सोनम गुप्ता एबीडीओ वीरेंद्र कठैत, एई एलएन चंदोला, एई सतीश भट्ट, जीपी रतूड़ी, सचिन मेवाड़गुरु, योगेंद्र परमार, मनीषा तिवारी आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*