दून निर्माता की ठप फिल्म का शुरू हुआ प्रोडक्शन

-इउलिआ, जिमी करेंगे श्मोह मोह के धागे में अभिनय
देहरादून। देहरादून आधारित फिल्म निर्माता ओम प्रकाश भट्ट की इयूलिया वंतूर के साथ आने वाली फिल्म, जो की शुरुआती निर्माता के साथ समस्याओं के कारण ठप हो गई थी, अब नए निर्माताओं, शीर्षक और रूप के साथ बनाई जा रही है। दून के ओ पी भट्ट अपनी कंपनी पर्पल बुल एंटरटेनमेंट के तहत फिल्म का सह-निर्माण करेंगे।
अभिनेत्री व गायिका इयूलिया वंतूर और अभिनेता जिमी शेरगिल अभिनीत फिल्म को अब श्मोह मोह के धागे’ के नाम से जाना जाएगा। कुछ अप्रत्याशित परिस्थितियों के कारण फिल्म का निर्माण अतीत में ठप हो गया था। इयूलिया फिल्म में कृष्ण भक्त की भूमिका निभाएंगी। ओपी भट्ट ने नए प्रोडक्शन के बारे में बताते हुए कहा, “निर्माताओं की नई टीम के आने के साथ फिल्म के लिए इयूलिया की लुक में भी बदलाव किया जाएगा। यह फिल्म, जिसे पिछले साल नवंबर में लांच किया जाना था, इस साल मई के महीने में शूटिंग प्रक्रिया के साथ शुरू होगी।” भट्ट ने आगे बताया, ष्शूटिंग मई के पहले सप्ताह में यूरोप में इउलिआ और जिमी के साथ शुरू होगी, जहाँ इउलिआ के बचपन की भूमिका को शूट किया जाएगा। इसके बाद पूरी टीम मथुरा जाएगी, जहां फिल्म की मूल शूटिंग पर काम किया जायेगा। हम शूटिंग को एक ही शिड्यूल में खघ्तम करने का प्रयास करेंगे।” इस फिल्म के सेह निर्माता कशिश खान और ओ पी भट्ट, जबकि निर्देशक प्रेम सोनी हैं। ओ पी भट्ट वर्तमान में अमिताभ बच्चन के साथ एक फिल्म का निर्माण कर रहे हैं, जिसका शीर्षक श्तेरा यार हूँ मैं’ है। उन्होंने मराठी के साथ-साथ हिंदी सिनेमा में भी कई लोकप्रिय फिल्मों का निर्माण किया है। पेशेवर सिनेमेटोग्राफी के लिए एक प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराया। इस मौके पर जाने-माने सिनेमेटोग्राफर्स- बेदी ब्रदर्स के मार्गदर्शन में महत्वाकांक्षी फिल्म निर्माताओं को पेशेवर सिनेमेटोग्राफी की बारीकियां जानने का मौका मिला, वे पावरफुल एवं स्थायी कंटेंट के निर्माण में सक्षम हुए। परियोजना के पांच दिनों के दौरान महत्वाकांक्षी फिल्म निर्माताओं को आधुनिक तकनीक के जरिए बहुत अधिक व्यवहारिक प्रशिक्षण दिया गया, उद्योग जगत के विशेषज्ञों ने उन्हें फिल्म निर्माण, वेबध्ब्रॉडकास्ट के लिए कंटेंट डिजाइन प्रक्रिया के बारे में विस्तृत जानकारी दी, उन्हें सिनेमा कैमरा से लेकर स्पेशल मल्टी-परपज कैमरा तक के बारे में जानकारी दी गई, इसके अलावा प्रोडक्शन एवं पोस्ट-प्रोडक्शन पर सत्र आयोजित किए गए, उम्मीदवारों को कार्यशाला पूरी होने के बाद कैनन इण्डिया की ओर से प्रमाणपत्र भी दिए गए। एडी उदागावा, वाईस प्रेजीडेन्ट, कन्ज्यूमर इमेजिंग एण्ड इनफोर्मेशन सेंटर, कैनन इण्डिया ने कहा, ‘‘कैनन इण्डिया में हम फिल्म निर्माण की कला को बढ़ावा देने तथा महत्वाकांक्षी उम्मीदवारों को इसके लिए अवसर उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध हैं। हम हमेशा से महत्वाकांक्षी सिनेमेटोग्राफर्स को उनके रचनात्मक एवं तकनीकी कौशल को विकसित करने के लिए मंच प्रदान करते रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*