डॉ. भीमराव अंबेडकर को राष्ट्रपिता घोषित किया जाएः चैंपियन 

-कहा, विधायक कर्णवाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज नहीं हुआ तो जाऊंगा कोर्ट
देहरादून। भाजपा विधायक कुॅंवर प्रणव सिंह चैम्पियन ने कहा कि भारत को आजादी राष्ट्रपिता कह जाने वाले महात्मां गांधी के बदौलत नहीं मिली बल्कि भारत की आजादी दिलवाने में बाल गंगाधर तिलक, राजबिहारी बोष, सुभाश चन्द्र बोष, भगत सिंह, राजगुरू, सुखदेव, चन्द्रशेखर आजाद की बदौलत मिली है। उन्हांेने कहा कि आजाद भारत में भी गांधी का नाम लेकर कांग्रेस भारतीयों के ऊपर अंग्रेजांे की तरह हुकूमत कर रही है।
 मंगलवार को उत्त्रांचल प्रेस क्लब में आयोजित पत्रकार वार्ता में कुॅंवर प्रणव चैम्पियन ने राष्ट्रपिता महात्मां गांधी को तथाकतिथ बापू बताया। उन्हांेने कहा कि मोहन दास कर्मचन्द गांधी को तत्कालीन कांग्रेसी अंधभक्त घोषित कर चुके थे जिसने भारत में विवाद की स्थिति पैदा कर दी। चैम्पियन का कहना है कि भारत माता को खंडित कर महात्मा गांधी के शरीर के अंगों को हिन्दुस्तान और पाकिस्तान में काटकर बांटा गया। भाजपा विधायक ने कहा कि जब प्रधानमंत्री चुनने के लिए चुनाव किया गया तो 99 प्रतिशत वोट सरदार बल्लब भाई पटेल को पडे़ और एक प्रतिशत वोट नेहरू को पडा था। उन्होंने कहा कि देश वासियों को कांग्रेसी शासन ने गुलामी की मानसिकता से उभरने नहीं दिया। उन्हांेने कहा कि कांग्रेस ने लौहपुरूष सरदार बल्लब भाई पटेल की राजनितिक हत्या की है जिसे माफ नहीं किया जा सकता। भाजपा विधायक प्रणव सिंह चैंपियन ने फिर दोहराया कि वे महात्मा गांधी को राष्ट्रपिता नहीं मानते हैं। उनका कहना है कि डॉ. भीमराव आंबेडकर को राष्ट्रपिता घोषित किया जाए। साथ ही उन्होंने विधायक कर्णवाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने का सीएम से अनुरोध भी किया। उन्होंने बताया कि सीएम से मुलाकात कर कर्णवाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने का अनुरोध किया गया है। उन्होंने सीएम को एक दिन का अल्टीमेटम देते हुए कहा कि अगर कर्णवाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज नहीं हुआ तो वो कोर्ट जाएंगे, जिससे सरकार की किरकिरी होगी। चैंपियन यहीं नहीं रुके, उन्होंने कर्णवाल को प्याली का तूफान तक बता दिया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*