डीएम सविन बंसल ने की विभिन्न योजनाओं की समीक्षा 

नैनीताल। जिलाधिकारी सविन बंसल ने मनरेगा, एनआरएलएम, प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण), मिशन अन्त्योदय योजना, जल शक्ति अभियान, बाल विकास, महिला सशक्तिकरण योजनाओं की जिला कार्यालय में गहन समीक्षा की। उन्होंने योजनाओं की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए कि योजनाओं की मनसा को संजीदगी से समझते हुए पात्र लाभार्थियों को लाभ पहुॅचाना सुनिश्चित करें। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि जानकारी के अभाव में कोई भी पात्र व्यक्ति योजनाओं का लाभ लेने से वंचित न रहे। सभी अधिकारी चल रही जन कल्याणकारी योजनाओं का वृहद्ध प्रचार-प्रसार कर दूरस्थ क्षेत्र की गरीब एवं पात्र जनता तक योजनाओं का लाभ पहुॅचाना सुनिश्चित करें, पात्र व्यक्तियों तक योजनाओं का लाभ न पहुॅचने की स्थिति को सम्बन्धित अधिकारियों की हीलाहवाली माना जाएगा और ऐसे अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।
श्री बंसल ने कहा कि मनरेगा कार्यों को समय से पूर्ण करें, कार्यों की एमआईएस त्वरित गति से करते हुए अपलोड करें व मनरेगा श्रमिकों को मस्टरोल, बीजक अपलोड कर समय से भुगतान कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि चालू वित्तीय वर्ष में स्वीकृत मनरेगा कार्यों को प्रारम्भ कर अधिक से अधिक कार्य कराकर देनदारी दर्ज करें ताकि शासन से अधिक से अधिक धनराशि प्राप्त की जा सके। उन्होंने चेतावनी देते हुए खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे मनरेगा कार्यों में गति लाए तथा जो कार्य पूर्ण हो रहे हैं, उनकी तुरन्त एमआईएस कराकर सूची तीन दिन के भीतर जिला विकास अधिकारी को उपलब्ध कराना सुनश्चित करें। जिला विकास अधिकारी ने बताया कि चालू वित्तीय वर्ष में 10 लाख 400 श्रम दिवस का लक्ष्य रखा गया है जिसके सापेक्ष माह जुलाई अब तक 3 लाख 7691 श्रम दिवस पूर्ण कर लिए गए हैं। जिलाधिकारी ने विकासखण्ड भीमताल, हल्द्वानी, रामगढ़, रामनगर द्वारा अभी तक श्रम दिवस कम खर्च करने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए मनरेगा कार्यों को शीघ्र प्रारंभ कर श्रम दिवस बढ़ाने के निर्देश खण्ड विकास अधिकारियों को दिए।
उन्होंने दीनदयाल अन्त्योदय योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन में गठित 2286 समूहों की समय-समय पर ग्रेडिंग की जाये व समूहों को बैंको से लिंक कराये, इसके लिए जिला अग्रणीय बैंक प्रबन्धक व बैंकर्स से वार्ता कर ऋण उपलब्ध कराया जाए। उन्होंने कहा कि समूहों की गतिविधियों का नियिमित निरीक्षण करें तथा समूहों द्वारा उत्पादित उत्पादों की बिक्री हेतु हाॅट-बाजार उपलब्ध कराये जायें व आउटलेट द्वारा भी विपणन व्यवस्था की जाए। समूहों को आरसेटी तथा विशेषज्ञों के माध्यम से प्रशिक्षण दिलाया जाए साथ ही समूहों को अन्य जनपदों एवं प्रदेशों में अच्छा कार्य कर रहे प्रगतिशील समूहों से संवाद कायम कराने के साथ ही भ्रमण भी कराए जाएं। उन्होंने जनपद में अच्छा कार्य कर रहे समूहों को सम्मानित करने के निर्देश दिए।
प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की समीक्षा के दौरान परियोजना निदेशक ने बताया कि योजना में जनपद को 662 आवासों का लक्ष्य मिला था जिसके सापेक्ष 613 लाभार्थियों का चयन कर आवास स्वीकृत किए गए है, जिनमें से 567 आवास पूर्ण हो चुके हैं जबकि 43 आवास निर्माणाधीन हैं। 3 आवासों हेतु भूमि चयन लम्बित है। जिसपर जिलाधिकारी श्री बंसल ने शीघ्र भूमि चयन कर कार्य प्रारम्भ कराने के निर्देश दिए। समाज कल्याण की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि ब्लाॅक स्तर पर प्राप्त विभिन्न पेंशन फार्मों का पंजिका में अंकन किया जाए व 15 दिन के भीतर अनिवार्य रूप से फार्म पूर्ण कराकर खण्ड विकास अधिकारी प्रतिहस्ताक्षर कर प्राप्त फार्म समाज कल्याण कार्यालय में स्वयं अथवा सक्षम अधिकारी एवं कर्मचारी के माध्यम से फीडिंग कराना भी सुनिश्चित करेंगे तथा खण्ड विकास अधिकारी इस आशय का प्रमाण पत्र  भी देंगे कि उनके पास 15 दिन से पहले के पेंशन फार्म लम्बित नहीं हैं। श्री बंसल ने कहा कि उनके निरीक्षण के दौरान 15 दिन से अधिक समय के पेंशन फार्म लम्बित पाए जायेंगे तो कड़ी कार्यवाही अमल में लाई जायेगी। उन्होंने यह भी कहा कि शीघ्र ही ब्लाॅक स्तर पर प्राप्त विभिन्न प्रकार के प्रार्थना पत्रों पर नजर रखने के लिए पोर्टल बनाया जाएगा, जिसकी निगरानी स्वयं उनके द्वारा व मुख्य विकास अधिकारी द्वारा की जाएगी।
बाल विकास योजनाओं की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि बच्चों व महिलाओं को नियमित पुष्टाहार उपलब्ध कराया जाए व बच्चों का टीकाकरण नियमित हो। उन्होंने कहा कि कुपोषित बच्चों की नियमित जाॅच करायें तथा मानकों के अनुसार उन्हें पोषक आहार दिया जााए तथा कुपोषित बच्चों पर नजर रखते हुए उनके माता-पिता की काउंसिलिंग भी कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि कोई भी अधिकारी बिना उनकी स्वीकृति लिए किसी भी योजना में धनराशि समर्पित नहीं करेंगे। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार, परियोजना निदेशक बालकृष्ण, जिला विकास अधिकारी रमा गोस्वामी, एपीडी संगीता आर्या, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी ललित मोहन जोशी, जिला समाज कल्याण अधिकारी अमन अनिरूद्ध, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट, जिला प्रोबेशन अधिकारी अंजना गुप्ता सहित समस्त बीडीओ उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*