ट्रेन के तीन कोच में नकाबपोश बदमाशों ने डाली डकैती

रुड़की। बेखौफ बदमाशों ने शनिवार सुबह करीब तीन बजे चेन्नई से देहरादून जा रही 12687 अप एक्सप्रेस ट्रेन के तीन कोच में आठ से दस नकाबपोश बदमाशों ने डकैती डाल कर सनसनी फैला दी। यात्रियों की चीख-पुकार के बीच 20 से ज्यादा यात्रियों के साथ सोने-चांदी के आभूषण व नकदी लूटपाट कर ली। विरोध करने पर कई यात्री जख्मी भी हुए। सभी बदमाशों के पास बड़े चाकू थे। सहारनपुर जीआरपी ने लूटपाट की धाराओं मे रिपोर्ट दर्ज कर ली।
शुक्रवार रात अपने समय से करीब डेढ़ घंटा देरी से रात ढाई बजे सहारनपुर पहुंची चेन्नई एक्सप्रेस रात जैसे ही रुड़की के लिए रवाना हुई तो सहारनपुर से निकलते ही हिंडन पुल के निकट चेन पुलिंग कर बदमाशों के एक साथी ने ट्रेन को रोका। इसके बाद हिंडन पुल से आठ से ज्यादा नकाबपोश बदमाश चढ़ गए। कोच संख्या एस-1, एस-2 तथा एस-3 में घुसे बदमाशों ने चाकू निकाल कर जैसे ही गहरी नींद में सो रहे यात्रियों को जगा कर नकदी व जेवर मांगे तो चीख-पुकार मच गई।
हरिद्वार के ज्वालापुर स्थित वानप्रस्थ आश्रम निवासी आरसी त्रिपाठी ने विरोध किया तो चाकू से उनके सिर पर वार कर दिया। इस मंजर को देख एस-3 कोच में सवार महिलाओं व बच्चों की चीख-पुकार मच गई। जल्दबाजी में बदमाशों ने तीनों कोच से करीब 20 यात्रियों से लूटपाट की। एस-4 में घुसने की कोशिश की, मगर एक यात्री ने एक कोच से दूसरे कोच में जाने वाले रास्ते के शटर को तुरंत बंद कर दिया। वारदात को अंजाम देकर लुटेरे कूद कर फरार हो गए। इस दौरान करीब 50 मिनट तक ट्रेन हिंडन पुल पर ही खड़ी रही। चंद मिनटों बाद ही ट्रेन रुड़की पहुंची तो बदहवास यात्रियों ने वहां रेल स्टाफ व पुलिस को बताया तो हड़कंप मच गया। इसी बीच इंस्पेक्टर जीआरपी सहारनपुर राशिद अली रुड़की पहुंच गए। उन्होंने पीड़िघ्तों से बात की। बाद में सहारनपुर जीआरपी पुलिस ने लूटपाट का मुकदमा दर्ज कर लिया। अपर पुलिस अधीक्षक जीआरपी मनोज कत्याल ने बताया कि जिले की तीन टीमों के अलावा सहारनपुर जिले की पांच टीमें लगी है। बदमाशों की तलाश की जा रही है।
एस-3 कोच में परिवार के साथ मदुरई से रुड़की आ रहे के कुमार अपनी पत्नी, मां व चाची के साथ रुड़की लौट रहे थे। के कुमार रुड़की आईआईटी में लैब असिस्टेंट हैं। रुड़की से चंद किलो मीटर पहले ही वह वारदात का शिकार हो गया। बदमाशों ने के कुमार के 30 हजार रुपये नकद, एलईडी टीवी, सोने की दो चेन, मंगलसूत्र, एटीएम तथा आधार कार्ड लूट लिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*