गुरु नानक प्रकाश पर्व पर दून से सौहार्द का पैगाम

देहरादून। गुरु नानक देव के 550 वें प्रकाश पर्व के उपलक्ष्य में गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा आढ़त बाजार के तत्वावधान में सर्व धर्म सम्मेलन आयोजित किया गया। जिसमें सभी धर्म गुरुओं ने गुरु नानक देव के विचारों को आत्मसात कर उनके बताए रास्ते पर चलने का आहवान किया।
शुक्रवार को सुभाष रोड स्थित गुरुद्वार श्री गुरु नानक निवास में आयोजित सर्वधर्म सम्मेलन में अपने विचार व्यक्त करते हुए भाई गुरविंद्र सिंह ने कहा कि अल्लाह एक, नाम अनेक है। शहर काजी मौ.अहमद कासमी ने कहा कि गुरु नानक देव ने पूरे जीवन अमन का पैगाम दिया। फादर जेपी सिंह ने ईश्वर सर्वव्यापी और सर्व शक्तिमान है। सब एक ही ईश्वर की संतान है। किसी को भी घृणा की नजर से नही देखना चाहिए। बल्कि एकजुट होकर गुरु नानक देव के विचारों को आत्मसात कर उनके बताए रास्ते पर चलना चाहिए। आचार्य बिपिन जोशी ने कहा कि सिख धर्म में सेवा का भाव है। मौजूदा समय में आज पूरे विश्व को सेवा भाव की जरुरत है। गुरु नानक देव ने समाज में व्याप्त कुरीतियों, ऊंच-नीच, जातपात और भेदभाव को खत्म करने के लिए अपना पूरा जीवन न्यौछावर किया। गुरुद्वारा पटेल नगर के हैड ज्ञानी शमशेर सिंह ने कहा कि परमेश्वर एक है, सभी मनुष्य एक ही कुदरत के बंदे है। मंच का संचालन करते हुए गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा के हैड ग्रंथी शमशेर सिंह ने कहा कि गुरु ने किरत करो, नाम जपो और मिल बांटकर खाने का उपदेश दिया। वरिष्ठ उपाध्यक्ष जगमिंदर सिंह छाबड़ा, मनजीत सिंह, सतनाम सिंह, बलवीर सिंह साहनी, हरमोहिंद्र सिंह, देवेंद्र पाल सिंह मोंटी, गुरदीप सिंह टोनी, अमरजीत सिंह, अमरजीत सिंह कुकरेजा, पीएस कोचर, हरपाल सिंह सेठी, गुरबक्श सिंह राजन,चरणजीत सिंह, इंद्रजीत सिंह आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*